Principal's Message

  • Home -
  • Principal's Message

आज मुझे प्रसन्नता है कि आपने हमारे महाविद्यालय को उच्च अध्ययन हेतु चुना जो स्त्री शिक्षा के प्रति कटिबद्ध है तथा विद्यार्थियों के स्वस्थ्य-सुसंस्कृत विकास के प्रति सचेत है। आप सभी अभ्यागत विद्यार्थियों का महाविद्यालय में आत्मीय स्वागत है। महाविद्यालय में बौद्धिक उन्नयन के लिए दैनंदिन अध्ययन-अध्यापन के अतिरिक्त उच्च नैतिक मूल्यों के साथ रोजगारमूलक शिक्षा के अवसर आपको सुलभ होंगे। संस्थान के उत्कृष्ट अध्ययन-अध्यापन के साथ व्यापक एवं समुन्नत अधोसंरचनात्मक सुविधाओं के सम्यक उपयोग आपके भविष्य को संवारने में निश्चित ही सहायक होगे। यह संस्थान आपके उत्कर्ष से नारी सशक्तिकरण की ओर प्रवृत्त होगा। संस्थान एवं आपके संयोजन सह अस्तित्व एवं सकारात्मक सहयोग से ही यह महाविद्यालय स्त्री शिक्षा के माध्यम से राष्ट्र निर्माण में अपनी भूमिका के निर्वहन में समर्थ होगा। वर्तमान युग वैश्विक संदर्भों के साथ व्यक्तित्व विकास का युग है जो अत्यन्त चुनौतीपूर्ण है। रोजगार के अवसर, प्रतियोगी परीक्षाओं में सफलता, वैचारिक व बौद्धिक सामथ्र्य के निर्माण हेतु हमारे प्रयास अनवरत् हैं जिससे हमारे विद्यार्थियों को वैश्विक आयाम उपलब्ध हों। हमारे प्रयास से आपकी उन्नति का मार्ग प्रशस्त हो, आप बुलंदियों को प्राप्त करें यही शुभकामना है।


              ‘सा विद्या या विमुक्तये‘ अर्थात् विद्यार्जन में आशा, विश्वास व स्वअर्जन का मार्ग सुलभ होने का कृत संकल्प लिये मात्र 02 छात्राओं के साथ प्रारंभ यह महाविद्यालय 1961 से इस अंचल का उत्कृष्ट व अग्रणी महिला संस्थान रहा है। बिलासपुर नगरीय क्षेत्र ही नहीं वरन् समूचे समीपस्थ ग्रामीण अंचल के साथ दूरस्थ क्षेत्रों से बेटियां इस महाविद्यालय में अध्ययन-अध्यापन एवं स्व-कौशल से नित नये सोपानों का निर्माण कर रही हैं। समाज की निःशक्त, आर्थिक दृष्टि से कमजोर पिछडे़ वर्ग की बालिकाओं को उत्कृष्ट उच्च शिक्षा देने के भगीरथ प्रयास का प्रतिफल है कि आज यह संस्थान प्रदेश का सर्वोत्कृष्ट महिला संस्थान है। गुणवत्तापूर्वक व मूल्यपरक शिक्षा निरंतर प्रदत्त कर राष्ट्र निर्माण की दिशा में बिना किसी भेदभाव के श्रेष्ठ एवं आदर्श वातावरण का निर्माण कर नारी सशक्तिकरण के लिए कटिबद्ध यह महाविद्यालय निरंतर लक्ष्य प्राप्ति की ओर गतिमान है।
              नैक टीम द्वारा ‘ए‘ ग्रेड से प्रत्यायित एवं छ.ग. शासन द्वारा सर्वोत्कृष्ट व्यवस्था एवं अच्छे परिवेश के लिए पुरस्कृत यह महाविद्यालय अध्ययन-अध्यापन की अद्यतन सुविधाओं से पूर्ण है। अधुनातन अध्ययन तकनीकी से अध्यापन, समृद्ध पुस्तकालय, वायरलेस काँलरयुक्त अध्यापन कक्ष, ईसीटी तकनीक द्वारा अध्यापन के साथ-साथ अनेकानेक संदर्भ ग्रंथों, पाठ्यपुस्तकों, पत्र-पत्रिकाओं, शोध, जर्नल्स से युक्त केन्द्रीय विभागीय पुस्तकालय, दृष्टिबाधित छात्राओं के लिए आॅडियो अध्ययन सुविधा, अंग्रेजी लैब आदि छात्राओं के लिए उत्कृष्ट शैक्षणिक व अकादमिक वातावरण सृजित करते हैं। महाविद्यालय तकनीकी संदर्भों में भी अग्रणी है। वर्तमान में महाविद्यालय परिसर वाई-फाई सुविधा युक्त है, निःशुल्क इंटरनेट की सुविधा छात्राओं को वैश्विक आयामों से परिचित कराती है। महाविद्यालय का ग्रंथालय INFILBNET से आबद्ध है
               जो राष्ट्रीय-अंतर्राष्ट्रीय स्तर की अध्ययन सुविधा छात्राओं को उपलब्ध कराती है। अध्ययन-अध्यापन का मूलभूत उद्देश्य ज्ञानार्जन के साथ अर्थाजन भी है, अतः इस महाविद्यालय में 10 रोजगारमूलक एड-आॅन पाठ्यक्रम सहित 5 कौशल आधारित पाठ्यक्रम संचालित हैं जो निश्चित ही छात्राओं के भविष्य को संवारने में मील के पत्थर हैं। महाविद्यालय में स्नातक-स्नातकोत्तर स्तर पर सेमेस्टर प्रणाली, आनर्स व पसंद आधारित विषय चयनित पाठ्यक्रम का कुशलता से संचालन, उत्कृष्ट स्वशासी परीक्षा प्रबंधन महाविद्यालय की गरिमा का महत्वपूर्ण बिन्दु है। यह महाविद्यालय शोध संस्थान भी है। अटल बिहारी बाजपेयी विश्वविद्यालय बिलासपुर के अंग्रेजी, हिन्दी, भूगोल, रसायनशास्त्र, प्राणीशास्त्र, राजनीतिशास्त्र, गणित, गृहविज्ञान आदि विषयों में शोध केन्द्र है । निरंतर शोध संगोष्ठियों का आयोजन, उत्कृष्ट स्तर की शोधपरक विज्ञान प्रयोगशालाएं, अतिथि व्याख्यानों के माध्यम से बौद्धिक परिचर्चा आदि के कारण यह महाविद्यालय इस अंचल में उत्कृष्ट शोधपरक संस्थान के रूप में स्थापित है। उत्कृष्ट शैक्षणिक वातावरण हेतु छात्र-अध्यापकों का मधुर-साहचर्य, पारदर्शी शिक्षण, सतत् परीक्षण एवं छात्राओं के समन्वय का प्रबंधन महत्वपूर्ण आयाम है। अकादमिक उन्नयन के साथ शैक्षणेत्तर विकास के लिए भी प्रतिबद्ध है। कैरियर एण्ड काउंसलिंग, खेल, नारी उत्पीड़न, प्लेसमेंट सेल, एन.सी.सी., एन.एस.एस. की दो इकाईयों के साथ-साथ वार्षिक प्रतियोगी व समसामयिक साहित्यिक सांस्कृतिक आयोजन छात्राओं को अभिव्यक्ति का अवसर प्रदान करते हैं, इन अनुभवों से छात्राएं न केवल ज्ञान की धारा में प्रवाहित होती है वरन् आकाश की ऊंचाईयों को छू रही हैं। निश्चित ही अभिभावकों के लिए शैक्षणिक संस्थान का चुनाव एक महत्वपूर्ण प्रश्न है। वे चाहते है कि अपने पाल्य के सपनों को नया केनवास मिले जिसमें विविध रंगों के चित्र उकेर सकें तथा ऐसी सतरंगी आशा की पूर्णता हो । इस महाविद्यालय को इस वर्ष माॅडल कालेज के रूप में विकसित करने के लिये रूसा के द्वारा अनुदान स्वीकृत हुआ है । यह महाविद्यालय छात्राओं के सुनहरे भविष्य को गढ़ने की दिशा में भगीरथ प्रयासरत है एवं परिणाम स्वरूप नैक से "A" Grade प्रत्यायित तथा ‘संभाव्य उत्कृष्ट संस्थान‘, पंचमुखी विकास के अंतर्गत उत्कृष्टता का पुरस्कार प्राप्त कर महिला विश्वविद्यालय की ओर गतिमान है।

                   कवि सोहनलाल द्विवेदी के शब्दों में -

                   जीवन हो वरदान, प्रतिपल सुन्दर हो,

                   ज्ञान प्रखर हो, कर्म मुखर हो, रहे आत्म सम्मान’’

की मंगल कामना के साथ स्त्री शक्ति सवंर्धन, स्त्री सशक्तिकरण, स्त्री शिक्षा, स्त्री अस्मिता की रक्षा व उन्नयन की ओर सतत् गतिशील यह संस्थान प्रबंधन, प्राध्यापक वृन्द तथा कर्मचारियों की सहभागिता से गुणवत्तापूर्ण शिक्षा की दिशा में अनवरत् अग्रसर है।
सादर ।


Dr. S. L. Nirala

Principal

Govt. Bilasa Girl's P.G. (Auto) College, Bilaspur